मकान खरीदने के लिए लोन-makan banane ke liye loan kaise le

मकान खरीदने के लिए लोन-makan banane ke liye loan kaise le

लोगों को अक्सर घर खरीदने, फ्लैट खरीदने और दुकान खरीदने के लिए कर्ज की जरूरत पड़ती है। लेकिन बहुत से लोगों को इस विषय में ज्यादा जानकारी नहीं होती है। जमीन खरीदने के लिए लोन चाहिए या , makan banane ke liye loan chahiye ,घर खरीदने के लिए कर्ज कैसे लें, या फिर घर के लिए बैंक से loan कैसे लें,

ज्यादातर लोगों का सपना होता है कि उनका खुद का मकान या जमीन हो। जिसके लिए लोग जीवन भर कड़ी मेहनत करते हैं और अपनी बचत जमा करते हैं। तभी वह अपने सपने पूरे कर सकता है। लेकिन कई लोग अपने घर का सपना जल्दी पूरा करने के लिए बैंक या एनबीएफसी से लोन लेते हैं।

घर खरीदने के लिए लोग अक्सर बैंकों और निजी ऋण देने वाली संस्थाओं की मदद लेकर loan लेते हैं। तभी वह अपने सपनों का घर बनाने या खरीदने में सक्षम होता है। इसके लिए ग्राहक को बैंक से होम लोन या पर्सनल लोन लेना होगा। ज्यादातर बैंक ग्राहक को होम लोन देते हैं।

होम लोन ज्यादातर लोग घर बनाने, घर खरीदने, रेनोवेशन, घर खरीदने और फ्लैट खरीदने के लिए लेते हैं। अधिकांश बैंकों और एनबीएफसी से होम लोन आसानी से प्राप्त किया जा सकता है। इसके लिए कई जरूरी दस्तावेज मांगे जाते हैं। पूरी जानकारी के लिए लेख को अंत तक पढ़ें।

makan banane ke liye loan kaise milega- माकन खरीदने के लिए लोन कैसे मिलेगा 

मकान-खरीदने-के-लिए-लोन-makan-banane-ke-liye-loan-kaise-le

होम लोन लेने से पहले आवेदक की योग्यता का आकलन करना जरूरी है। आवेदक की योग्यता कई बातों पर निर्भर करती है। उदाहरण के लिए, आवेदक की आय का स्रोत परिवार की आय, व्यय, संपत्ति, देनदारियों आदि पर निर्भर करता है। इसकी जाँच बैंकों और ऋण देने वाली संस्थाओं द्वारा की जाती है।

घर के लिए होम लोन आवेदक की आय पर निर्भर करता है। आवेदक की मासिक आय कितनी है। वह आय का 50 प्रतिशत तक ऋण की किश्तों का भुगतान कर सकता है या नहीं। साथ ही आवेदक की उम्र भी मायने रखती है। आवेदक की आय जितनी अधिक होगी, वह उतना ही बैंक या निजी संस्थानों से ऋण ले सकता है।

यदि आवेदक एक कर्मचारी या वेतनभोगी व्यक्ति है। तो होम लोन की राशि उनके मासिक शुद्ध वेतन के अनुसार तय की जाएगी। यानी होम लोन आवेदक की नेट सैलरी पर निर्भर करेगा। अधिकांश बैंक शुद्ध वेतन का 60 गुना होम लोन देते हैं। यानी 20000 की नेट सैलरी वाले आवेदक को 12 लाख रुपए तक का होम लोन मिल सकता है।

किसी भी मकान/फ्लैट/मकान/आवेदक के लिए 10-20 प्रतिशत डाउन पेमेंट करना होगा। यानी आवेदक को अपनी संपत्ति की कीमत के हिसाब से बैंक से 80-90 फीसदी फाइनेंस मिल सकता है। एक घर, घर या फ्लैट को उसके मूल्य के 80-90 तक के लिए वित्तपोषित किया जा सकता है। इसमें रजिस्ट्रेशन, ट्रांसफर, स्टांप ड्यूटी आदि चार्ज लगते हैं।

घर, घर, दुकान, फ्लैट खरीदने के लिए आप बैंक और एनबीएफसी से घर के लिए आवेदन कर सकते हैं। और आप वहां से लोन लेकर घर/फ्लैट/मकान/घर खरीद सकते हैं। फिर आप इस राशि को ऋणदाता को किश्तों में चुका सकते हैं।

होम लोन के नियम

माकन पर कितना लोन मिल सकता है – makan par kitna loan milega

घर पर कितना लोन मिल सकता है? इस सवाल को लेकर ज्यादातर लोग भ्रमित रहते हैं। तो चलिए मैं आपको बताता हूँ। किसी भी घर/घर/फ्लैट/ को बैंक या एनबीएफसी द्वारा 80 – 90 प्रतिशत तक वित्तपोषित किया जा सकता है। यानी बैंक से घर की कीमत का 80-90% तक लोन के रूप में प्राप्त किया जा सकता है।

बाकी कर्जदारों को 10 से 20 फीसदी का डाउन पेमेंट करना होगा। शेष राशि को 80 – 90% तक का वित्तपोषण करके, बैंक उधारकर्ता को धन प्रदान कर सकता है। घर की कीमत का 90% तक लोन लिया जा सकता है। आप बैंकों और गैर-बैंकिंग वित्त कंपनियों के माध्यम से ऋण ले सकते हैं।

जमीन खरीदने के लिए कर्ज( loan )

कई बैंक और फाइनेंस कंपनियां जमीन खरीदने के लिए कर्ज भी देती हैं। लेकिन इसके लिए आवेदक को संपत्ति गिरवी रखनी होगी। यदि भूमि का पंजीयन किया गया है। और आप उस पर निर्माण करवाना चाहते हैं। तो आप इस जमीन पर होम लोन ले सकते हैं।

कई बैंक कम ब्याज दरों पर भी जमीन खरीदने के लिए कर्ज मुहैया कराते हैं। इसके लिए बैंक आवेदक से कई महत्वपूर्ण दस्तावेजों को गिरवी रखने की मांग करता है और साथ ही जमानतदार ऋण देने के लिए संपत्ति की भी मांग करता है। जो आवेदक को बैंक को उपलब्ध कराना होता है। उसी के आधार पर बैंक आवेदक को कर्ज देता है।

आवेदक ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से जमीन खरीदने के लिए लोन के लिए आवेदन कर सकेंगे। इसके लिए आवेदक बैंक में जाकर अधिक जानकारी प्राप्त कर आवेदन कर सकता है।

लोन लेने के लिए क्या करना चाहिए

माकन बनाने के लिए बैंक से लोन अप्लाई कैसे करे – makan bnane ke liye bank se loan apply kaise kare

  • घर खरीदने या घर बनाने के लिए आप होम लोन या कंस्ट्रक्शन लोन ले सकते हैं। जो आपको बैंकों और NBFC के जरिए मिलेगा।
  • आपको यह तय करना होगा कि आप किस बैंक या संस्थान से कर्ज लेना चाहते हैं। यह तय करने के बाद आपको उन संगठनों में जाकर पूरी जानकारी हासिल करनी होगी।
  • आवेदक को बैंक और ऋण देने वाली संस्था से सारी जानकारी लेने के बाद ऋण के लिए फॉर्म भरना होगा। जो फॉर्म आपको बैंक से ही मिल जाएगा।
  • आपको फॉर्म को पूरी तरह से सही तरीके से भरना होगा और उस फॉर्म के साथ जरूरी दस्तावेज अटैच करने होंगे। इसके बाद आप फॉर्म को बैंक में जमा कर देंगे। कुछ दिनों बाद आपका लोन अप्रूव हो जाएगा। फिर ऋण राशि आवेदक के खाते में जमा की जाएगी।

घर पर लोन लेने के लिए कौन से दस्तावेज़ आवश्यक हैं?

घर पर लोन लेने के लिए आवेदक से कई दस्तावेज मांगे जाते हैं। जिसका भुगतान आवेदक को बैंकों और वित्तीय संस्थानों में करना होता है। उसी के आधार पर आवेदक को ऋण प्रदान किया जाता है। घर के एवज में लोन लेने के लिए आपके पास ये दस्तावेज होने चाहिए।

  • पहचान प्रमाण: (आधार कार्ड, पैन कार्ड, पासपोर्ट, पहचान पत्र, डीएल,)
  • पता प्रमाण: (आधार कार्ड, बिजली बिल, पहचान पत्र,)
  • भूमि पंजीकरण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट
  • आय प्रमाण
    ऋण लेते समय आवेदक से ये दस्तावेज मांगे जा सकते हैं। इसके अलावा ऋणदाता द्वारा कई अन्य दस्तावेज भी मांगे जा सकते हैं। उदाहरण के लिए आईटीआर की कॉपी, फॉर्म 16 की कॉपी आदि मांगी जा सकती है।
आधार कार्ड पर कितना लोन मिल सकता हैमुद्रा लोन sbi कैसे अप्लाई करे

माकन के लिए कम ब्याज दर पर लोन कैसे ले ?

घर बनाना लगभग हर किसी का सपना होता है। इस सपने को पूरा करने के लिए कुछ लोग जीवन भर पाई-पाई जोड़ते हैं। वहीं कुछ लोग इस सपने को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए दोस्तों से कर्ज लेते हैं या किसी बैंक से कर्ज लेते हैं। घर खरीदने के लिए बैंक से कर्ज लेना आसान है और इस समय यह एक बेहतर विकल्प बन गया है

क्योंकि 7 फीसदी से कम दर पर कर्ज मिल सकता है. त्योहारी सीजन नजदीक आने के साथ ही बैंक ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए आकर्षक ऑफर्स भी दे रहे हैं। बैंकों के अलावा हाउसिंग फाइनेंस कंपनियां भी बैंकों को कम दरों पर कर्ज मुहैया करा रही हैं।

एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस समेत देश की पांच हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों से आपको सालाना 8 फीसदी से कम की दर से लोन मिल सकता है। एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस 6.9 फीसदी की दर से लोन दे रहा है।

मकान-खरीदने-के-लिए-लोन-makan-banane-ke-liye-loan-kaise-le-1

माकन  लोन @ 6.65% कोटक महिंद्रा बैंक – चेक वेबसाइट 

कोटक महिंद्रा बैंक देश में सबसे सस्ती दरों पर होम लोन प्रदान कर रहा है। कोटक महिंद्रा बैंक 6.65 फीसदी सालाना की दर से होम लोन दे रहा है, हालांकि घर खरीदारों को 0.50 फीसदी प्रोसेसिंग फीस भी देनी होगी। यूनियन बैंक ऑफ इंडिया 6.8 प्रतिशत की दर से ऋण की पेशकश कर रहा है और कोई प्रसंस्करण शुल्क नहीं है।

माकन लोन ग्राहकों के लिए एसबीआई की ओर से आकर्षक ऑफर- चेक वेबसाइट 

देश का सबसे बड़ा बैंक एसबीआई 30 लाख रुपये तक का होम लोन न्यूनतम 6.9 फीसदी की दर से और 30 लाख रुपये से अधिक के होम लोन को न्यूनतम 7 फीसदी की दर से दे रहा है। योनो ऐप के माध्यम से ऋण के लिए आवेदन करने पर 0.05 प्रतिशत (5 बीपीएस) की अतिरिक्त छूट मिलेगी।

इसके अलावा देश के 8 शहरों में बैंक 3 करोड़ रुपये तक के कर्ज पर ब्याज दरों में 0.2 फीसदी (20 बीपीएस) की छूट दे रहा है और 30 लाख रुपये तक के कर्ज के लिए यह छूट बाकी जगहों के लिए उपलब्ध है. 2 करोड़ रु. . 75 लाख रुपये से अधिक के होम लोन पर 25 बेसिस प्वाइंट (0.25 फीसदी) की छूट मिलेगी। हालांकि, एक बात का ध्यान रखें कि ब्याज दरों में छूट क्रेडिट स्कोर से जुड़ी होती है।

माकन लोन की ब्याज दर कैसे तय की जाती हैं ?

होम लोन के लिए सभी ग्राहकों से समान दर पर ब्याज नहीं लिया जाता है. बैंक इसके लिए खास मापदंड अपनाता है। होम लोन की दर आय, क्रेडिट स्कोर, संपत्ति स्थान, ऋण राशि, ऋण प्रकार, ऋण अवधि, रोजगार की स्थिति, प्रोमो ऑफ़र पर निर्भर करती है।

आय:

यदि आपके पास एक स्थिर और उच्च आय है, तो बैंक यह मान लेगा कि आप ऋण लेने में सक्षम हैं और कम दर पर ब्याज लगाया जाएगा।

क्रेडिट स्कोर:

जब ऋण के लिए आवेदन करते समय जांच की बात आती है तो क्रेडिट रिपोर्ट को भी ध्यान में रखा जाता है। यदि क्रेडिट स्कोर अधिक है तो ऋण आवेदन मिलने की संभावना बढ़ जाती है और आप ब्याज दरों पर बातचीत भी कर सकते हैं।

संपत्ति का स्थान:

यदि आप जिस संपत्ति के लिए ऋण ले रहे हैं वह मूल्य स्थान पर है या किसी विश्वसनीय बिल्डर या एजेंसी से ले रही है, तो आपको ब्याज दरों पर शुल्क में राहत मिल सकती है।

ऋण राशि:

ब्याज दर भी ऋण राशि पर निर्भर करती है।

लोन का प्रकार:

ब्याज दरें इस बात पर भी निर्भर करती हैं कि आप किस प्रकार का होम लोन ले रहे हैं। नया घर खरीदने पर एक मानक दर लगेगी, जबकि अगर आप घर में किसी सुधार के लिए कर्ज ले रहे हैं तो आपको ऊंची दरों पर कर्ज मिलेगा।

ऋण अवधि:

यदि आप लंबी अवधि का ऋण ले रहे हैं, तो ब्याज दरें कम हो सकती हैं।

ब्याज दर के प्रकार-(मकान खरीदने के लिए लोन-makan banane ke liye loan kaise le)

निश्चित दर आम तौर पर फ्लोटिंग दर से अधिक होती है।

रोजगार के प्रकार:

वेतनभोगी श्रमिकों को कम दरों पर गृह ऋण मिलता है जबकि स्वरोजगार करने वाले लोगों को ऋण की अधिक संभावना होती है, जिसके कारण उन्हें उच्च दरों पर ऋण मिलता है। वेतनभोगी और गैर-वेतनभोगियों के लिए बैंक अलग-अलग स्लैब बनाते हैं।

प्रोमो ऑफर:

बैंक कई प्रोमो ऑफर भी देते हैं जो बिल्डरों या एग्रीगेटर्स के साथ टाई-अप में पेश किए जाते हैं। इसके तहत आपको ब्याज दरों में भी राहत मिल सकती है।

नोट – समय के साथ लोन की दर में गिरावट या फिर बढ़ोत्तरी हो सकती हैं इसलिए यह लेख केवल जानकारी प्राप्त के उद्देश्य से है इसलिए किसी तरह के निर्णय लेने के लिए प्रोत्साहित नहीं करता हैं इसलिए आपको पूरा समझदारी के साथ ही कोई फैसला लेना चाहिए ।

निष्कर्ष (मकान खरीदने के लिए लोन-makan banane ke liye loan kaise le)

आशा करता हूँ आपको यह लेख जो की makan banane ke liye loan kaise len के बारे में है आपको जरूर पसंद आया होगा आपके कोई सवाल है तो उन्हें कमेंट में जरूर पूछे जिसका जल्द से जल्द उत्तरा देने का प्रयाश किया जायेगा धन्यवाद ।

Leave a comment