peter england kaha ki company hai-peter england company kaha ki hai

peter england kaha ki company hai-peter england company kaha ki hai

दोस्तों आज हम एक बड़े ही दिलचप्स कंपनी के बारे में बात करेंगे जो नाम से तो विदेशी लगता हैं पर है नहीं , हाँ मैं पीटर इंग्लैंड कंपनी के बारे में बात कर रहा हूँ की मुख्य रूप से peter england kis desh ki company hai और इसका मालिक कौन हैं

इस तरह की सभी जानकारी और इसका इतिहास , पीटर इंग्लैंड की मार्किट रणनीति क्या हैं , आदि के बारे में भी बताऊंगा लेकिन सबसे पहले यह जान ले की  peter england एक कपडा निर्माता कंपनी हैं जो बहुत पुरानी हैं

  • पीटर इंग्लैंड कहा की कंपनी है 

पीटर इंग्लैंड कंपनी की स्थापना साल 1889 को इंग्लैंड में लंडनडेरी आयरलैंड में हुई थी जो इंग्लैंड में मौजूद हैं । इसका नाम उस समय नाम ओल्ड इंग्लैंड ब्रांड रखा गया था जो मुख्य रूप से इंग्लैंड के सैनिकों के लिए कपडे का निर्माण करती थी

इसके बाद साल 1957 को इस कम्पनी को अधिग्रहण कर लिया गया था और नाम बदलकर peter england रखा गया था । भारत में इसकी सुरुवात 1997 में हुई थी और आज के समय में यह एक देशी कंपनी बन चुकी हैं

अब इस कंपनी के का स्वामित्व भारत में आदित्य बिड़ला फैशन एंड रिटेल लिमिटेड के ए डिवीजन और साल 2000 में यह कम्पनी भारत में पहले स्थान भी प्राप्त कर चुकी हैं जो मुख्य रूप से केवल पुरूषों के कपडे बना रह था

nike कहा की कमपनी हैं ?puma कहा की कंपनी है ?

बिरला ग्रुप ने इस कम्पनी को साल 2000 को खरीद लिया था इसलिए अब यह देशी कम्पनी बन चुकी है और विदशों में भी इसके कपडे कई सारे ब्रांड के नाम से बेचे जाते हैं

मार्किट रणनीति-(peter england kaha ki company hai-peter england company kaha ki hai)

उम्मीद आपको यह मालूम चल गया होगा की पीटर इंग्लैंड किस देश की कंपनी है और यह किस चीज का व्यापार करती हैं लेकिन बिज़नेस के क्षेत्र में सफल होने के लिए एक मजबूत मार्किट रणनीति होना बहुत जरुरी हैं जिसमे यह कम्पनी सबसे माहिर खिलाड़ी मानी जाती रही हैं

peter-england-kaha-ki-company-hai-peter-england-company-kaha-ki-hai-1

मार्किट में कस्टमर का विस्वास को जितना और अपने प्रोडक्ट निर्माण में कोई भी ढिलाई नहीं देना सायद सबसे अच्छी रणनीति हो सकता है और इसी नियम को अपनाते हुए इस कंपनी ने हमेशा कपडे में उच्च  गुणवत्ता का ख़ासा ध्यान रखा हैं जिसके कारण किसी दूसरे कम्पनी के मुक़ाबले इसने अधिक लोकप्रियता और बाजार में विस्वाश हासिल किया ।

इसका एक रिकॉर्ड यह भी है की यह कम्पनी कपडा निर्माण के क्षेत्र में लगातार 7 साल तक टॉप 5 में अपनी जगह बनाया हैं । यह एक ऐसा ब्रांड है जो पुरुष की सभी जरुरत को पूरा करने में सक्षम हैं

भारत में केवल 1000 से भी अधिक शोरूम खोले जा चुके हैं । हर साल 50 लाख से भी ज्यादा के इस कंपनी में निर्माण कपडे बेचे जाते हैं जिसमे सबसे ज्यादा कासुअल और फॉर्मल शर्ट्स की संख्या सबसे अधिक हैं

हालाँकि पहले यह कंपनी सिर्फ एक ही तरह के कपडे निर्माण में अपना ध्यान केंद्रित करती थी लेकिन समय के अनुसार और डिमांड के वजह से अब इस कंपनी ने टी-शर्ट, टाई, डेनिम, मोजे, शर्ट, पतलून और पतलून का भी निर्माण करती हैं

jockey कंपनी किस देश की हैं ?adidas कहा की हैं ? 

इससे बढ़िया बात यह है की उत्पादन में तरह तरह के डिज़ाइन , कपडे निर्माण के क्षेत्र में कुछ नया करने की कोशिस , इस कंपनी को सबसे बेहतर बनाता है क्योंकि कस्टमर एक ही तरह के डिज़ाइन वाले कपडे पर निर्भर नहीं रह सकते हैं और इस कमी को कंपनी भलीभांति जानती हैं

मार्किट और कस्टमर का चुनाव

मार्किट में किसी प्रोडक्ट का प्राइस लोगों का ध्यान सबसे पहले अपनी तरफ खींचता है अतः इसे ध्यान में रखते हुए और किस तरह के लोगों को कम्पनी अपना प्रोडक्ट बना रही हैं क्या वह प्रोडक्ट उन्हें पसंद आएगी इसके लिए कम्पनी ने माध्यम वर्ग के लोगो को चुना जिनकी संख्या भी अधिक हैं ।

इन दो बिन्दुओ पर कम्पनी ने अधिक ध्यान दिया जिससे कस्टमर इस कम्पनी के तरह आकर्षित हुए । जब नए फैसन की बात आती हैं तो इसके लिए peter england हमेशा त्यार रहता है इसके लिए वह निरंतर मार्किट का अनुसरण करता रहता हैं ।

भारत में आने से पहले और बाद में इस कम्पनी ने कई पुरुष्कार जीतें हैं जिसमे यदि केवल भारत की बात करे  तो peter england ने 2015 में सर्वश्रेठ प्रौद्योगिकी पहल एवं साल 2017 में मेन फॉर्मल्स  में सबसे टॉप पर रहा है ।

जब इसकी स्थापना की गयी थी तब और जब इसे भारत द्वारा खरीद लिया गया तब  दोनों में इसके मार्केटिंग के नजरिये से बहुत बड़ा फर्क हैं जिसमे एक बात तो साफ़ नजर आती है वह यह है की भारत में आबादी ज्यादा होने के साथ कपडे की खपत ज्यादा है और साथ में यह कंपनी पुरे दुनिया में कारोबार करती हैं जिसके वजह से नए तरह के डिज़ाइन और मार्किट रणनीति बनाने में आसानी होती हैं ।

आज के दौर में इंटरनेट का चलन बढ़ने के साथ इस कंपनी ने भी अपने ऑनलाइन स्टोर खोल चिकि है और दूसरे e-commerce कम्पनी में भी इसके प्रोडक्ट बिकते हुए देखा जा सकता हैं अब यदि त्यौहार में छूट की बात ना हो यह नहीं हो सकता इसलिए त्यौहार में भी कई तरह के डिस्काउंट देकर यह कम्पनी अपने कस्टमर का ध्यान अपने ओर आकर्षित करती हैं ।

कम्पनी की आलोचना और सफलता 

केवल नाम के वजह से बहुत से लोगो को यह लगता होगा की यह एक विदेशी ब्रांड हैं लेकिन अब यह पूर्ण रूप से भारतीय ब्रांड हैं आपको एक बात और बता दू की इसी चक्कर में इसे देशी ब्रांड बनाने से भारत में इंकार भी किया जा चूका हैं ।

बात दरअसल यह हैं की साल 2015 को स्वदेशी जागरण मंच द्वारा एक स्वदेशी कम्पनयों की लिस्ट त्यार की गयी थी जिसमे केवल उन्ही कंपनी को शामिल किया गया जिनले निर्माता या मालिक केवल भारत के हो ।

इस लिस्ट में peter england का नाम नहीं रखा गया था जिसके पीछे केवल इसके नाम से इस कम्पनी को शामिल करने से इंकार कर दिया गया शायद यह england की कंपनी है परन्तु बड़ी मुश्किल से उन्हें यकीन दिलाया गए की यह एक देश ब्रांड हैं ।

अभियान 

समय – समय पर यह कंपनी अभियान चालती रहती हैं जिसमे साल 2017 में, पीटर इंग्लैंड ने ‘बी एवरीथिंग यू लव‘ टैगलाइन के साथ एक नया अभियान चलाया जिसमे  युवा पीढ़ी को नई चीजों को आजमाने और नए अनुभव को महसूस करने के लिए  प्रोत्साहित किया गया । फेसबुक एवं  यूट्यूब पर  7 लाख से अधिक बार देखे जाने के साथ इस अभियान को एक नई  पहचान मिली थी ।

निष्कर्ष 

उम्मीद करता हु की आपको मेरा यह लेख peter england kaha ki hai या peter england is from which country बहुत पसंद आया होगा और अपनी राय एवं किसी सवाल को हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं जिसका जल्द से जल्द उतार देने का प्रयाश किया जयगा धन्यवाद ।

Leave a comment