tadasana benefits in hindi-tadasana yoga-ताड़ासन के लाभ

tadasana benefits in hindi-tadasana yoga-ताड़ासन के लाभ

दोस्तों आज हम एक बहुत ही सिंपल आसन के बारे में जानेंगे जिसका नाम ताड़ासन या tadasana pose के नाम से जानते हैं जिसे हर कोई बड़े आसानी से कर सकता हैं । एक अंदाजा के बारे में बात करूँ तो यह खड़े होकर किया जानेवाला आसान से योग हैं ।

बहुत से लोग tadasan को कई नाम से बुलाते हैं जिसमे , पर्वत आसन , पाम ट्री पोज़ , माउंटेन पोज़ , स्वर्गीय योग आदि हैं यदि आप भी इनमे से कोई नाम खोजते हुए आये है तो आप सही स्थान पर हैं  इस लेख में वो सभी जानकारी आपको पढ़ने को मिलेगी जो आप जानने के इच्छुक रखते हैं ।

आज के समय में लोग अपने शरीर का ठीक से ख्याल नहीं रख पा रहे हैं जिसके वजह से आये दिन वे कोई न कोई बीमारी के चपेट में आसानी से फसते जा रहे हैं यदि आप इन बिमारी को दूर करना चाहते है तो सुबह के समय योगा करने का समय जरूर निकाले कुछ दिन के अभ्यास से आपको बहुत फायदा होगा जिसमे ताड़ासन योग  जरूर शामिल करे ।

what is tadasana in hindi 

ताड़ासन (tara asan) मुख्य रूप से दो शब्दों से मिलकर बना हैं जिसका अर्थ यानी की ताड़ का मतलब सीधा खड़ा होना और आसन का मतलब मुद्रा होता हैं जिसका पूरा नाम सीधा खड़ा होकर मुद्रा में आना या फिर पर्वत मुद्रा में आ जान होता है ।

आपको बता दे की यह करने में जितना आसान है उतने इसके लाभ भी हैं इसलिए इस आसन को रोज जरूर करे । इस आसन को करने के लिए कोई दूसरे वयक्ति या फिर कोई ट्रेनर की कोई आव्सय्कता भी नहीं पड़ती हैं ।

कपालभाति मैडिटेशन गाइड 

tadasana ke fayde-ताड़ासन के फायदे- (tadasana benefits in hindi-tadasana yoga-ताड़ासन के लाभ)

ताड़ासन के फायदे वैसे तो बहुत सारे हैं लेकिन कुछ मुख्य लाभ निचे आपको पढ़ने को मिल जायेंगे और बहुत से ऐसे आसन हैं ज्न्हे करना बहुत ही कठिन हैं खासकर वे लोग जिनका वजन ज्यादा होता हैं ऐसे में यदि वे ताड़ासन को अपनी लिस्ट में शामिल करे तो आपको बहुत फायदा हो सकता हैं और इसे आसानी से कर भी सकते हैं ।

  • शरीर की लम्बाई बढ़ाने में मददगार 

वैसे यह  एक जेनेटिक समस्या है, लेकिन इसके अलावा बच्चों का इनडोर गेम पर ज्यादा निर्भरता भी इसका लम्बाई न बढ़ने का मुख्य कारण हो सकता है। ऐसे में आप अपने बच्चे को विभिन्न तरह के खेल गतिविधि में शामिल करने के साथ योगा जरूर कराये ।

जिन बच्चों की लंबाई नहीं बढ़ रही हैं तो उनसे रोज सुबह अन्य योगा के साथ ताड़ासन भी जरूर करवाएं। इस योग को रोजाना करने से हमारे शरीर के सभी हिस्सों में खिंचाव पैदा होता है। जिससे लंबाई बढ़ने की संभावना बढ़ जाती हैं ।

  • कब्ज से राहत 

जिन लोगों को हमेशा कब्ज की शिकायत रहती है उन्हें ताड़ासन करने का आदत डालना चाहिए। इस आसन को निरन्तर करने से पाचन तंत्र मजबूत होता है और कब्ज की परेशानी ख़त्म होती है। इसके अलावा ताड़ासन करने से सियाटिका की समस्या भी दूर होती हैं ।

  • सांस सम्बन्धी बिमारी में 

रोजाना ताड़ासन करने से  श्वसन को लेकर कोई बीमारी को दूर किया जा सकता हैं । इसके करने से शरीर स्वस्थ रहने के साथ श्वसन प्रणाली भी मजबूत होती है।

धनुरासन चक्रासन 
  • पीठ दर्द से राहत 

अगर आपको पीठ के दर्द की शिकायत हमेशा रहती है या फिर कोई काम बैठकर करते है तो यह आसन आपके लिए बहुत फायदेमंद  है। यदि सही तरह से इस आसन का अभ्यास करते है तो पीठ के दर्द की समस्या को कम हो जाती है। इस आसन का अभ्यास करते समय जब पुरे शरीर को ऊपर की तरफ ले जाते हैं तो स्ट्रेचिंग करने से पीठ दर्द से आराम मिलता है।

  • पोस्चर में सुधार करता है

मान लजिए आपकी जीवनशैली बेहद सुस्त या गतिहीन है तो ताड़ासन आपको हर रोज करना चाहिए क्योंकि यह अधिक देर तक बैठकर काम करने या लेटे रहने से खराब हुए पोस्चर की स्थिति में  सुधार करता है।

हम ऐसा कह सकते है की ताड़ासन का अभ्यास आपकी रीढ़ के पोस्चर को ठीक करने में सक्षम हैं । जब आप नियमित रूप से इस आसन का अभ्यास करेगे, तो आप करने पर पाएंगे  कि पहले से स्थिर रूप से खड़े होने लगे हैं और आपकी खड़े होने की मुद्रा में सुधार हुआ है।

  • मानसिक सुधार 

tarasan आपके केवल शरीर के अंगो की मरम्मत नहीं करता बल्कि मानसिक तनाव को दूर कर उसे शांत स्वभाव का बनाता हैं जिससे आपके चिंता और तनाव दूर होने लगती हैं क्योंकि यह आसन आपके मानसिक चेतना से जुड़ने में मदद करता हैं ।

  • शरीर के संतुलन में 

इस आसन से शरीर संतुलन बनाने में मदद मिलती हैं क्योंकि इस आसन को करते वक़्त पैर के ऊँगली पर सारा भार देना होता हैं जो निरन्तर अभ्यास से शरीर संतुलन बैलेंस होने के साथ घुटने की परेशानी से भी निजात मिलती हैं ।

हलासन पद्मासन 

ताड़ासन की विधि-tadasana kaise karte hain

कुछ लोग ज्यादा जानकारी के अभाव में इस आसन को सही ढंग से नहीं कर पाते हैं जिससे वे आसन तो करते हैं लेकिन उन्हें शरीरिक लाभ नहीं मिल पाता हैं या फिर कोई समस्या से पीड़ित हो जाते हैं इसलिए इस आसन का शै तरीका के बारे में निचे बताया गया हैं ।

tadasana-benefits-in-hindi-tadasana-yoga-1

  • सबसे पहले सीधे खड़े हो जाए और पैर के बिच में कुछ दुरी बना ले
  • अब दोनों हाथ को निचे की तरफ एक दम सीधा रखें
  • एक लम्बी सांस लेते हुए दोनों हाथों को ऊपर ले जाते हुए सर से सटाकर सीधा रखें और ऊँगली से एक दूसरे से बाँध ले
  • अब अपनी एड़ी को उठाते हुए पैर की ऊँगली पर खड़े होने का प्रयाश करे
  • कम से कम 10 से 20 सेकंड इस स्थिति में बने रहे और सांस को सामान्य तरिके से लेते रहे
  • अब सांस छोड़ते हुए अपने सामान्य स्थिति में आ जाए और ऐसा कम सेकम 10 बार रोज जरूर करे
  • इस आसन को करने के लिए सुबह का समय का चुनाव सही रहता हैं ।
शीर्षासन अनुलोम – विलोम व्रजासन 

निष्कर्ष (tadasana benefits in hindi-tadasana yoga-ताड़ासन के लाभ)

आशा करता हूँ की आपको मेरा यह आर्टिकल benefits of tadasana in hindi या ताड़ासन योग के फायदे  या tadasana लाभ आपको बहुत पसंद आया होगा जिसमे इससे जुडी सभी जानकारी विस्तार से बताया गया हैं यदि आप अपना कोई सुझाव देना चाहते है तो कमेंट में जरूर बताये धन्यवाद ।

Leave a comment