samsung mobile kis desh ki company hai

samsung mobile kis desh ki company hai

सैमसंग भारत समेत पूरी दुनिया में चाहे वो मोबाइल बनाने का क्षेत्र हो या फिर टीवी , ac , फ्रिज आदि हो इन सभी में सबसे टॉप पर आती हैं लेकिन इस कंपनी की स्थपना एक छोटे से देश से सुरु हुई और आज पुरे दुनिया में दो नंबर पर गिनी जानेवाली कंपनी है

यदि आप एक बात को गौर करे तो आप यदि आज भी किसी गांव क्षेत्र में चले जाए या फिर कोई ऐसा इंसान हो जिसे सिर्फ मोबाइल के द्वारा बात करने भर तक ही मतलब रहता हो तब उनके हाथ में आप हमेशा सैमसंग की कीपैड वाली ही मोबाइल ही देखेंगे

क्योंकि सैमसंग के कीपैड फीचर वाले मोबाइल को चलाना बहुत आसान होता है जिससे लोग काफी पसंद करते है ।

samsung mobile भारत में mi के बाद दूसरे नंबर पर आती है यानी की मोबाइल बेचने के मामले में redmi mobile के बाद दूसरे पायदान पर सबसे ज्यादा मोबाइल विक्रेता कंपनी है और सैमसंग के लिए भारत सबसे बड़ा मार्किट है और यही कारण है की मोबाइल के अलावा दूसरे इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट का डिमांड भी भारत में बहुत ज्यादा है

samsung-mobile-kis-desh-ki-company-hai-1

सैमसंग की स्थापना 1938 में south korea में हुई थी और इसके संस्थापक LEE BYUNG CHUL है और इनका जन्म 12 फ़रवरी ,1910 को साउथ कोरिया में ही हुआ था ।

उन्होंने इकॉनमी में mba aur graduation की डिग्री हासिल की थी । जिस तरह हम भारत में अम्बानी को बिज़नेस क्षेत्र में सबसे सफल कारोबारी मानते है ठीक उसी तरह साउथ कोरिया में भी इनको बड़ा  बिजनेसमैन माना जाता है और वहां की gdp में इनके बिज़नेस का कुल 17 % हिस्सा शामिल है ।

oppo का सबसे सस्ता फोन कौन सा है  world का सबसे महंगा मोबाइल 

सैमसंग किस देश का कंपनी है

जैसा की हम जानते है की किसी भी बिज़नेस को बहुत आगे तक ले जाने में समय के साथ बहुत मेहनत की भी जरुरत होती हैं और lee byung chul ने भी सैमसंग को आगे तक ले जाने में काफी मेहनत की थी ।

  • इतिहास – history 

साल 1938 को साउथ कोरिया में इसके स्थापने होने के बाद सबसे पहले यह कंपनी नूडल , आटा और मछली का व्यापार करती थी किसे दूसरे देशो में निर्यात किया जाता था

इसके बाद 1950 से लेकर 1960 तक के समय में सैमसंग ने बिमा कंपनी और टेक्सटाइल क्षेत्र में भी अपने हाथ आजमाए लेकिन इस विभाग में इस कंपनी को कुछ खास सफलता नहीं मिली ।

इसके बाद जब कंपनी ने 1969 में टेक्नोलॉजी क्षेत्र में कदम रखने के फैसला लिया तब वही से इस कंपनी का उदय होने की घडी आ गयी थी और तब से इस कंपनी ने आज तक कभी भी पीछे मुड़कर वापस नहीं देखा और आज का समय है की छोटे से छोटे सामान से लेकर बड़े से बड़े इलेक्ट्रिक सामान तक बनाती हैं ।

साल 1970 से samsung electronics नाम की कंपनी से सुरुवात की गयी और इस कंपनी ने अपने पहला प्रोडक्ट black and white television बनाकर मार्किट में लांच किया था

कुछ समय बाद ही इनके बनाया गया टीवी को बहुत अच्छा रिस्पांस मिला और उस समय टीवी का भी बहुत ज्यादा डिमांड हुआ करता था इसलिए सैमसंग टीवी भी खूब बिका ।

ओप्पो कंपनी फ़ोन कहाँ की है  वायरलेस चार्जर कैसे बनता है ?

सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स प्रोडक्ट (samsung mobile kis desh ki company hai)

टीवी की उम्मीद से ज्यादा सेल्ल होने के कारण अब सैमसंग कंपनी को पता चल गया था की उन्हें आगे अब क्या करना चाहिए और इस प्रकार 1970 के बाद से कंपनी ने इलेक्ट्रॉनिक्स से जुड़े दूसरे प्रोडक्ट जैसे फ्रिज , कूलर , ऐसी , पंखा , ओवन , आदि जैसे प्रोडक्ट को बनाना आरम्भ कर दिया था और इन सभी प्रोडक्ट में भी उनको बहुत बढ़िया रिस्पांस मिलने लगा ।

अब समय 1980 का आ चूका था जिसमे फ़ोन कम्पनिया फ़ोन का निर्माण कर बेचना सुरु कर चुकी थी जिसका डिमांड उस समय भी बहुत ज्यादा था जैसा की आज के समय में हैं

उस समय मोटोरोला , नोकिआ ही सबसे प्रचलित ब्रांड थी जो फ़ोन के निर्माण करती थी जिसको सैमसंग ने भी भाप लिया था और 1980 से सैमसंग ने भी फ़ोन बनाने का फैसला लिया ।

उस समय सैमसंग फ़ोन बनाने के अलावा , मेमोरी कार्ड , कम्प्यूटर के पार्ट्स आदि भी बनाती थी तब से लेकर आज तक सैमसंग ने छोटे इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम बनाना नहीं छोड़ा है और मोबाइल  और लैपटॉप में लगने वाले ic का निर्माण भी यही कंपनी करती है

साथ में दूसरी कंपनी को बेचती भी है इनके खुद के प्रोडक्ट में भी इन्ही  का ic और सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल होता है यह किसी दूसरे कंपनी को हायर नहीं करती है आप इसे एक सेल्फ डिपेंड कंपनी भी कह सकते हैं ।

19 नवंबर 1987 को कंपनी के संस्थापक lee byung chull इस दुनिये से चले गए और इस कंपनी का पूरा जिम्मेदारी इनके परिवार पर आ गयी थी चूँकि इनका परिवार काफी बड़ा था तो इन्होने ने ही इस कंपनी को आगे चलाने का फैसला किया और आज इन्ही के द्वारा  सैमसंग को संचालित किया जाता है ।

अपना सिम नंबर कैसे पता करे  स्मार्ट फ़ोन लेते समय किन बातों का रखें ध्यान 

सैमसंग का भारत में स्थापना 

आज के समय में सैमसंग कंपनी जिस स्थान में है उसमे इसके ceo , lee byung chull का बहुत बड़ा योगदान हैं उन्होंने ने ही सैमसंग को नोडल बनाने से लेकर मोबाइल फ़ोन बनाने तक का लम्बा सफर तय किया और सैमसंग को एक नयी उचाई तक लेकर खड़ा किया था इसलिए हम उनके योगदान को नहीं भूल सकते हैं ।

अब बात करते है की भारत में सैमसंग ने अपना कदम कब रखा था तो इसका जवाब है 1995 में भारत में कदम रखा था ।सैमसंग उत्पाद आज भारत में व्यापक रूप से उपलब्ध हैं और बहुत लोकप्रिय हैं,

इसने 1995 में सैमसंग इंडिया इलेक्ट्रॉनिक्स की स्थापना की, तो यह छोटा शुरू हुआ था । नई दिल्ली के कनॉट प्लेस में इसके केवल दो कर्मचारी और एक छोटा सा कार्यालय था। तब के समय टीवी में डील करते हुए कंपनी ने वीडियोकॉन के साथ पार्टनरशिप किया था।

samsung-mobile-kis-desh-ki-company-hai-2

भारत  में सैमसंग का पहला अनुसंधान और विकास (R & D) केंद्र 1996 में बेंगलुरु में स्थापित किया गया था। एक साल बाद, इंडिया  में टीवी बेचने के मकसद से उत्तर प्रदेश में एक कारखाने का निर्माण किया गया ।

सैमसंग ने 2003 में इंडिया में रेफ्रिजरेटर बनाना शुरू किया और 2007 में मोबाइल फोन मैनुफक्चर करने लगा था और उसी साल , नोएडा में मोबाइल डिवीजन को समर्पित एक अलग से आर एंड डी सेंटर स्थापित किया गया।

लगभग 23 के बाद साल बाद, सैमसंग समूह के पास केवल भारत  में 70,000 से अधिक कर्मचारी हैं, पांच R AND D UNITS हैं, और यह छह प्रोडक्ट  श्रेणियों में मौजूद है-जिसमें टेलीविज़न, वॉशिंग मशीन और रेफ्रिजरेटर शामिल हैं – उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स में; इसमें मोबाइल फोन के अलावा चार अन्य व्यवसाय वर्टिकल भी हैं और इन्हे samsung india के नाम से जाना जाता है ।

नोकिआ की कम्पनी कहाँ की है ? मोटोरोला फ़ोन किस देश से है

सैमसंग इंडिया (samsung mobile kis desh ki company hai)

इस साल की शुरुआत में, इसने भारत के नोएडा कारखाने के विस्तार के लिए 15 4,915 करोड़ का निवेश किया, जो यह कहता है कि यह दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फोन निर्माण की फैक्ट्री होगी ।

लेकिन मोबाइल फ़ोन बनाने में महारत हासिल चीनी और कुछ भारतीय कंपनियों के साथ प्रतिस्पर्धा बढ़ गई है, जिससे काफी कम कीमतों पर ज्यादा फंक्शन वाले समान कस्टमर की पेशकश कर रहे हैं।

तो एक टॉप ब्रांड को इस माहौल में बढ़त को कैसे बनाए रखा जा सकता है? हमने पता लगाने के लिए गुरुग्राम में सैमसंग मुख्यालय में सैमसंग के शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात की और उनमें से ज्यादातर लोगो का मानना है कि इनोवेशन पर ध्यान देने से सैमसंग का ध्यान बना रहेगा और samsung इस रणनीति पर काम करती है ।

सबसे पहले बात करते हैं मोबाइल  की, कंपनी के राजस्व में सबसे बड़ा योगदानकर्ता आज के समय में स्मार्टफोन ही है । 2016-17 में सैमसंग इंडिया का कुल राजस्व 12 55,512 करोड़ रूपए था

नवीनतम उपलब्ध मोबाइल कारोबार का रेवेनुए  34,300 करोड़ था। सैमसंग मोबाइल में   4,000 से लेकर, 80,000 से अधिक तक के मोबाइल फ़ोन  हैं, कुछ ऐसा नहीं बचा जो स्मार्टफोन निर्माताओं के बीच  नहीं है।

जबकि इसकी गैलेक्सी एस और नोट श्रृंखला सबसे ज्यादा चलन में  हैं, ए और जे सीरीज  लोअर से माध्यम  उपभोक्ता के लिए बाजार में उपलब्ध हैं। कम कीमत वाले फोन पेश करने की रणनीति भी चीनी ब्रांड Xiaomi, Huawei, Oppo, और Vivo जैसे सेगमेंट के ब्रांड  को टक्कर देने के लिए एक प्रतिक्रिया थी।

बेस्ट मोबाइल – (samsung mobile kis desh ki company hai)

ऐसे समय को याद रखना थोड़ा मुश्किल होता है जब सैमसंग आधुनिक जीवन का कोई बड़ा हिस्सा नहीं था। यह टेक्नोलॉजी में अन्य  दिग्गज कंपनी के विपरीत इतने सारे उत्पादों के साथ अपना रास्ता बनाता बनाता चला गया ,

mi redmi फ़ोन कहाँ की है  realme मोबाइल कंपनी कहाँ की है 

जिन इलेक्ट्रिक डिवाइस का  हम रोजाना इस्तेमाल करते हैं। लेकिन यह वास्तव में तब तक नहीं था  जब तक कि सैमसंग बाजार में नए रूप आया था । मोटोरोला , एप्पल  और नोकिआ जैसे कुछ मोबाइल  दिग्गजों के खिलाफ चैलेंज और  जल्दी से Android बाजार के शीर्ष स्थान पर काबिज हो जाना इतना आसान नहीं होता ।

  • sgh-100

sgh-100

1969 से उनका इलेक्ट्रॉनिक्स डिवीजन चालू हुआ था लेकिन एसजीएच -100 को 1988 में कोरिया में जारी किया गया एवं अपना पहला मोबाइल फोन होना  साउथ कोरिया के लिए एक सम्मान की बात थी । इस मोबाइल की डिज़ाइन बिलकुल सिपंल थी किसी वायरलेस फ़ोन की तरह उस समय इतना सबकुछ होने किसी चमत्कार से कम नहीं था ।

  • sgh-600

sgh-600

सितंबर 1998 को सैमसंग ने SGH-600 – फोन लांच किया जिसने उन्हें यूरोप में अपनी पकड़ मजबूत करने में  मदद मिली ।सरल, सिंपल  डिजाइन  के लिए  इस मोबाइल फ़ोन को लांच  किया गया

मैं आपको एक बात बात दू की SGH-600 फ़ोन को कस्टमर द्वारा सबसे ज्यादा पसंद किया गया था। योजना ने काम किया और यह ज्यादा क्वांटिटी में बेची गई और सेल्ल के वजह से इसे कई  पुरस्कार भी मिलने शुरू हो गए और सैमसंग ने अगली बड़ी मोबाइल को लांच करने के बारे में सोचना शुरू कर दिया।

  • samsung glaxy 

“एंड्रॉइड पैक को एक नए लीडर “ के रूप में लिया गया – सैमसंग गैलेक्सी एस ने सब कुछ बदल दिया। जून 2010 में रिलीज़ होने के बाद, यह एंड्रॉइड डिवाइसेस में आते ही सैमसंग को लोगों के दिमाग में सबसे आगे ले जाने में सफलता हासिल की ।

samsung-glaxy

2018 के सबसे अच्छे फोन में से एक के रूप में, गैलेक्सी एस 9 और एस 9 प्लस कमाल के फीचर से लैस थे। उन्होंने हमें अपने नए इन्फिनिटी डिस्प्ले और डुअल-स्टीरियो  साउंड स्पीकर्स के साथ सैमसंग का सबसे अधिक देखने का अनुभव प्रदान किया और जब इस मोबाइल में कैमरे की बात आई तो उसमे भी अव्वल निकला ,  सैमसंग ने गंभीरता से अपने गेम को नए और बेहतर तरीके से लोगो के सामने पेश किया था ।

हमारी पसंदीदा विशेषताओं में से एक ड्यूल  एपर्चर लेंस है। यह इंसानी आंख की तरह काम करता है, इसमें आने वाली रोशनी की मात्रा के आधार पर बैलेंस  किया जाता है

यह सूंदर शॉट्स के लिए बनाता है, चाहे आप कहीं भी हों।फ्लैगशिप S10 ने हमें प्रीमियम गैलेक्सी का अनुभव दिया।एक तेज प्रोसेसर, बढ़िया  कैमरों, और वायरलेस चार्जिंग 2.0 सहित और अभी यह समाप्त नहीं हुआ है। 2019 में 5G आ गया और सैमसंग 5G रेडी S10 के साथ ।

निष्कर्ष (samsung mobile kis desh ki company hai)

उम्मीद है की आपको मेरा यह आर्टिकल samsung company kis desh ki hai खूब पसंद आया होगा और इस तरह के आर्टिकल पढ़ने के लिए हमे कमेंट जरूर करे धन्यवाद ।

Leave a comment