nokia kahan ki company hai-नोकिया कहां की कंपनी है

nokia kahan ki company hai

आज के समय में सायद nokia का चलन ज्यादा ना हो लेकिन इसके बारे में दुनिया का हर आदमी जनता है और अपने जिंदगी में हो सकता है की दो चार मॉडल नोकिआ मोबाइल का भी इस्तेमाल किया हो ।

आज से 15 से 20 साल पहले जब बाजार में एंड्राइड नाम को कोई मोबाइल नहीं था केवल मार्किट में फीचर फ़ोन ही मिला करते थे तब उस समय केवल नोकिआ का बोलबाला था लोग उस कंपनी के मोबाइल को खरीदने के लिए घंटो लाइन लगाकर खड़े रहते थे

आलम यह था की उस समय कोई ऑनलाइन शॉपिंग भी ज्यादा नहीं थी फिर भी लोग एडवांस में नोकिआ के आनेवाले मॉडल में अपना पैसा लगा देते थे क्योंकि जैसे ही उस मॉडल का मोबाइल इंडिया में जैसे ही लांच हो तो उन्हें पहले से बुकिंग किया हुआ मोबाइल मिल सके ।

उस समय हर 10 लोगों में से 8 लोगो के पास नोकिआ के ही मोबाइल होते थे हर किसी को नोकिआ ही पसंद था चाहे वो मोबाइल टेक्नीकली खराब हो तब भी लोग नोकिआ को ही खरीदना और इस्तेमाल करना पसंद करते थे और मोबाइल खरीदने वाले जितने भी लोग थे उनका पहला पसंद नोकिआ ही होता था

ऐसा नहीं है की उस समय केवल नोकिआ कंपनी ही मोबाइल बनाती थी बल्कि उस समय भी बहुत सारी कंपनी थी जैसे lg , motorolla , micromax , sony आदि थी

लेकिन उन सबमे नोकिआ की क्वालिटी , और फंक्शन इतने सिंपल थे की हर कोई उसे खरीद कर इस्तेमाल करना चाहता था । तो चलिए आज हम nokia के बारे में की nokia kaha ki company hai इसके बारे में जानने की कोसिस करेंगे ।

sabse kam daam ka mobile  बिना तार का चार्जर 

नोकिया किस देश की कंपनी है?

nokia कंपनी की स्थापना 1865 में की गयी थी जो एक पेपर बनाने का काम करती थी और यह कंपनी फ़िनलैंड देश की तम्पेरे सहर में स्थित है । इस कंपनी का संस्थापक fredrik idestaam थे

इन्होने यह कंपनी कोई मोबाइल बनाने के लिए नहीं खोली थी और वैसे भी उस समय मोबाइल का तो  दूर दूर तक कोई निसान नहीं था बल्कि फ्रेडरिक ने पेपर मिल बिज़नेस के लिए nokia कंपनी का गठन किया था ।

अपने कंपनी का नाम nokia रखने का सुझाव वहां पर बह रही नोंकिविरता नदी के वजह से रखा गया था

  • nokia ka itihaas – नोकिआ का इतिहास 

फ्रेडरिक ने साल 1871 में अपने एक मित्र के साथ जिसका नाम लिओ मकीलिन था , उन दोनों ने एक नयी कंपनी का गठन किया जिसका नाम nokia AB रखा । आगे चलकर यह कंपनी ने 1922 में finish rubber work और finish cable work के साथ मिलकर इलेक्ट्रॉनिक्स और केबल तार का बिज़नेस करने लगी थी

कुछ साल साथ में काम करने के बाद यही तीनो कंपनी ( nokia AB , finish cable work , finish rubber work ) ने 1967 में नोकिआ कारपोरेशन नाम की एक कंपनी को स्थापित किया था

अब इस nokia corporation के अंदर चार बिज़नेस का वयापार  किया जा रहा था जिसमे रबर , केबल , इलेक्ट्रॉनिक्स , पेपर था । अब समय था इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र में और आगे बढ़ने का तथा इस कमी को पूरा करने के लिए 1970 में नोकिआ के तरफ से नेटवर्किंग और रेडियो के क्षेत्र में कदम रख दिया गया

अपने देश की आर्मी के लिए नोकिआ ने रेडियो से जुडी उपकरण बनाना चालू कर दिया था और 1980 आते ही नोकिआ की पकड़ रूस जैसे बड़े देश में भी मजबूत हो चुकी थी

oppo mobile kaha ki hai  sabse mehnga mobile 

नोकिआ द्वारा ख़रीदा गया प्रमुख कंपनी (nokia kahan ki company hai)

1980 से लेकर 1990 तक नोकिआ ने अपने कंपनी को लगातार विस्तार करते चला गया और इस विस्तार का पीछे सबसे बड़ा कारण था दूसरे कंपनी को अपने में मिला लेना इसलिए इन्ही दस साल में उसने उस समय की तीन प्रमुख कंपनी सलोरा जो टीवी का निर्माण करती थी ,

फिर इसके बाद लुक्सर AB जो की कम्प्यूटर बनती थी और ओसनिक नाम की भी एक कंपनी थी जो टीवी बनाने के क्षेत्र में कार्य करती थी ।

इस प्रकार नोकिआ ने इन तीनो को खरीदने के बाद दुनिया की टीवी बनाने के क्षेत्र तीसरी नंबर पर आ गयी थी और इस समय नोकिआ के पास भारी मात्रा आर्डर के डिमांड थे और यही वजह है की नोकिआ बहुत ज्यादा क्वांटिटी में टीवी और मॉनिटर का निर्माण कर रही थी ।

लेकिन इसकी मुख्या कामयाबी तो अभी बाकी था जो मोबाइल के क्षेत्र में आना था और इस ख्वाइस को पूरा करने के लिए वो कोई ऐसा कमजोर टेलीफोन कंपनी को ढूंढ रही थी

जो बिकने के कगार पर हो और उसे मिल भी गया उसने साल 1982 को mobira को खरीद लिया जो टेलीफोन क्षेत्र से जुडी थी । इसके बाद उसने अपना पहला फ़ोन बाजार में उतारा था जिसका नाम mobira sinetar रखा गया था ।

कुछ साल गुजर जाने के बाद नोकिआ ने 1987 को अपना पहला पोर्टेबल फ़ोन बाजार में उतारा जिसका नाम mobira cityman था । फिर इसके बाद नेटवर्क क्षेत्र को मजबूत करने के लिए 1990 को सीमेंस के साथ मिलकर नोकिआ ने gsm network  का गठन किया ।

apna mobile numaber kaise jaane  samsung kaha ki hai 

nokia se nokia mobile tak ka safar – नोकिआ से नोकिआ मोबाइल तक का सफर 

नोकिआ ने gsm network का गठन करने के बाद फिर पीछे मुड़कर कभी नहीं देखा और नोकिआ के gsm नेटवर्क से पहला कॉल फ़िनलैंड के पंतप्रधान हरी होलकारी ने 1 जुलाई 1991 को पहला कॉल किया था ।

फिर इसके बाद नोकिआ ने अपना पहला मोबाइल फ़ोन 1992 को लांच किया जो की एक gsm नेटवर्क पर चलने वाला मोबाइल फ़ोन था और उस मॉडल का नाम nokia 1011 था ।

उस समय उसका कम्पटीशन करने वाला सिर्फ एक ही कंपनी था जिसका नाम मोटोरोला है और 1998 को उसने मोटोरोला को भी पीछे चढ़ते हुए दुनिया का मोबाइल के क्षेत्र में नंबर ओने मुकाम हासिल कर लिया । इसके बाद नोकिआ ने 2003 में सबसे ज्यादा बिकने वाला मोबाइल लांच किया जिसका मॉडल नंबर nokia 1100 था । 

फिर इसके बाद नोकिआ ने बहुत सारे फेमस मोबाइल लंच करता चला गया जिसमे नोकिआ 6600 , 3310, n series , 3220 , 1110 आदि था लेकिन समय के साथ सही दिशा में आगे ना बढ़ने कारण उसे भी काफी नुक्सान उठाने पड़े

जिसका परिणाम यह हुआ की बहुत सारी कम्पनिया अपना ध्यान जब 4g नेटवर्क और एंड्राइड पर दे रही थी तब नोकिआ केवल फीचर फ़ोन ही मार्किट में बेच रहा था जिसके वजह से लगातार उसका मार्किट गिरता चला गया और जब तक सम्भलता तब तक बहुत देर हो चूका था ।

अभी कुछ दिनों पहले का स्टेटमेंट है जब नोकिआ ceo ने यह कहा की हम मार्किट के डिमांड और कस्टमर की जरुरत को ठीक से नहीं परख पाए जिसका नतीजा यह हुआ की हम आज मार्किट से बाहर हो चुके हैं और अब कोई उम्मीद नहीं है की फिर से वो दिन वापस ला पाए जब केवल सिर्फ नोकिआ का बोलबाला था ।

oppo ka sasta phone  mi ka sasta phone 

नोकिआ बेस्ट मोबाइल – nokia best mobile 

  • nokia 5110 ( 1997)

उस समय कोई अन्य फोन नोकिया के 5110 के रूप में आमंत्रित नहीं कर सकता था। फोन के बारे में सब कुछ बड़ा था, जिसमें सचित्र आइकन, बटन और बढ़िया बैटरी बैकअप शामिल है। 5110 का पहला फोन मज़ेदार होने के लिए एक केस भी बनाया जा सकता है। चमकीले रंग के मामले स्टॉक मोर्चे को स्वैप कर सकते हैं

असली शो-चुराने वाला एक सरल खेल था जो बच्चों और पेंशनरों के लिए समान था। सांप वाला गेम लोकप्रिय संस्कृति में उसी तरह से लिप्त है जिस तरह से लोग सुपर मारियो को याद किया करते है । 5110 बस सरल नहीं था यह एकदम सही था।

  • nokia 8810 ( 1998)

बिना कोई संदेह के नोकिया का सबसे बढ़िया फोन 8810  था। पूरे फोन को क्रोम में संलग्न किया गया था, सिग्नल पास करने के लिए आवश्यक प्लास्टिक पट्टी का निर्माण किया गया था ।

उस समय मेटल बॉडी ने फोन को बनाना मुश्किल बना दिया  और स्टॉक सीमित मात्रा में ही बनते थे । 8810 ने न केवल अपने उत्तराधिकारियों के लिए मार्ग प्रशस्त किया, बल्कि सभी फोनों के लिए साहसी डिजाइन भी पेश किया ।नोकिया 8810 एक इंटरनल  एंटीना वाला दुनिया का पहला फोन था।

  • नोकिआ 8210 ( 1999)

नोकिया ने 5110 में अपने तकनीक को छोटा कर दिया और दुनिया को दिखा दिया की छोटा से छोटा मोबाइल भी बनाया जा सकता है । यह पूरी तरह से काम करने वाला फोन था जो 10 सेमी लंबा था और इसका वजन 79 ग्राम था। 8210  में 250 फ़ोन नंबर स्टोर किये जा सकते थे , चार गेम,  और 75 घंटे का स्टैंडबाय टाइम स्टोर करने के लिए एक्सेस मेमोरी के साथ एक फोनबुक भी शामिल था ।

motorolla kahan ki company hai 
  • nokia 7210 ( 2002)(nokia kahan ki company hai)

आखिरकार 7210 के साथ नोकिया मोबाइल में आ गए। नोकिया ने 1.5 इंच, 128×128 रिज़ॉल्यूशन की रंगीन स्क्रीन को एक महत्वपूर्ण एक्सेसरी: अटैच कैमरा के साथ मार्किट में उतारा ।इन दोनों केटेगरी  ने 7210 को सार्थक बना दिया क्योंकि फोन को एक असुविधाजनक कीपैड द्वारा अटैच  कर दिया गया था।

  • nokia N91 ( 2005)

N91 नोकिया द्वारा निर्मित अब तक का सबसे पुराना में सबसे बढ़िया मोबाइल  हो सकता है। फोन विकल्प के आधार पर था और इसकी स्क्रीन डिजाइन  बहुत ही सुन्दर था। स्टेनलेस स्टील ने फोन को तौला और संगीत नियंत्रण को अपनी स्लाइड में बनाया गया। सॉफ्टवेयर ग्लिच श्रेणी के कारण N91 की रिलीज़ में लगभग एक साल की देरी हुई।

नोकिया अपने सीरीज फ़ोन को लगातार  को आगे बढ़ा रहा था। N91 के पार्टी-ट्रिक में सामने की ओर इशारा करती हैं और इसमें म्यूजिक के लिए 4GB की इंटरनल स्टोरेज थी ।

N91 से पहले किसी अन्य फोन ने इतनी दमदार  मेमोरी नहीं मिल रही थी। स्टॉक सीमित था और ग्राहक एक फोन के लिए निहित थे जो एक एमपी 3 प्लेयर के रूप में दोगुना हो सकता था। N91 ने इतना जबरदस्त बिका  कि नोकिया ने काले रंग के कपड़े में इसके 8GB मॉडल को  पेश किया।

mi mobile kahan ki hai  realme mobile kaha ki hai 
  • नोकिआ N900 (2009)(nokia kahan ki company hai)

2009 में नोकिया का N 900 अपने समय से बहुत पहले का संस्करण  था। 3.5in स्मार्टफोन में एक दिलचस्प रूप से स्क्रीन था,  जो बाहर की ओर झुकी हुई थी, और बाद में एक लैंडस्केप करने के बाद एक QWERTY की बोर्ड खुलता था। अपने लिनक्स आधारित मेमो 5 ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ मिलकर, N900 एक ठोस उत्पादकता मॉडल साबित हुई थी ।

  • nokia 800 (2012)

नोकिया 808  काफी हद तक एक अनपेक्षित फोन था और यह उस समय बड़ा और भारी फ़ोन था । जबकि उस समय Apple का iPhone चिकना और पतला हुआ करता था। प्रोसेसर धीमा था

स्क्रीन, जो एक AMOLED पैनल से बना था और स्क्रीन रेसोलुशन 360×640  था। सबसे बुरी बात यह है कि 808 प्योरव्यू ने सिम्बियन का सॉफ्टवेयर इस्तेमाल , जो कि उस समय Apple के iOS और उभरते हुए Google Android का इस्तेमाल करते थे और नोकिआ का पतन का सबसे बड़ा कारण यही है ।

nokia 808 एक हूपिंग 38 मेगापिक्सेल कैमरा के साथ आया जिसने फोटो के मोर्चे पर सारे तुलना को समाप्त कर दिया। कोई बात नहीं इसकी कमी के कारण, 808 प्योरव्यू इमेजिंग के मास्टर के रूप में नोकिया को मानचित्र पर रखने वाला पहला फोन था।

  • nokia e71 ( 2013)

Apple का iPhone एक साल के लिए जब बाहर हो गया था तब उस समय ब्लैकबेरी अभी भी व्यावसायिक फोन के लिए हॉलमार्क ब्रांड हुआ करता था। तब नोकिया ने उसे तकार देने के लिए E71, एक धातु-क्लेड फोन जो एक QWERTY कीबोर्ड और एक पतली 1 सेमी प्रोफ़ाइल द्वारा प्रतिष्ठित था, बाजार में लॉन्च किया। यदि किसी को  ब्लैकबेरी अच्छा नहीं लग रहा था, तो उस परिस्थिति में E71 खरीदना बहुत सस्ता था एवं एक आखिरी चॉइस थी ।

हालाँकि इस मोबाइल को बिज़नेस के लिहाज़ से मार्किट में उतारा गया था जिसमे बिज़नेस से सम्बंधित सारे फंक्शन उसमे मौजूद थे और यह मॉडल और इसके सारे फंक्शन बिजनेसमैन को बह गए जिसमे नोकिआ को एक और सफलता मिल चुकी थी ।

  • नोकिआ N9(nokia kahan ki company hai)

N9 के बाद नोकिया के शानदार अतीत की सबसे दुखद कहानी हो सकती है। एक ओर, यह N900 पर MeeGo नामक Maemo सॉफ़्टवेयर का आगमन हुआ। यह एक प्रकार से ज्यादा इंतजार करने जैसा था

जिसमें N900 प्रशंसकों ने तीन साल का लंबा इंतजार किया।नोकिया का स्मार्टफोन व्यवसाय लगातार विफल हो रहा था और कंपनी ने इसके बजाय विंडोज फोन को वापस करने का फैसला किया था।(nokia kaha ki company h)

इस दु: खद कहानी से उभरने वाला साहसिक डिजाइन है जो N9 द्वारा पेश किया गया । गोल कोनों, चमकीले रंग और पॉली कार्बोनेट प्लास्टिक N9 से विरासत में मिली नोकिया की विंडोज फोन रेंज के सभी लक्षण मौजूद थे ।

निष्कर्ष  (nokia kahan ki company hai)

दोस्तों आपको मेरा यह आर्टिकल nokia company belongs to which country या , nokia किस देश की कंपनी है इसके बारे में मैंने आपको बताया और साथ में इसके चर्चित मॉडल के बारे में भी डिसकस किया यदि अच्छा लगे तो हमे कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद ।

Leave a comment