newton apple story in hindi

newton apple story in hindi

बचपन से, हम बार-बार सुनते हैं कि जिस तरह से न्यूटन बगीचे में एक सेब के पेड़ के नीचे बैठा था, जहाँ एक सेब उसके सिर पर गिरा और न्यूटन ने सोचा कि सेब एक सीधी रेखा में क्यों गिरा है? यह ऊपर या अगल बगल में क्यों नहीं गिरा ? इस सवाल पर विचार करते हुए, न्यूटन ने आखिरकार पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण सिद्धांत को पुरे दुनिया के सामने स्थापित किया । न्यूटन और सेव की यह कहानी विज्ञान के इतिहास की सबसे प्रसिद्ध और लोकप्रिय कहानियों में से एक है।

न्यूटन ने स्वयं कभी यह स्वीकार नहीं किया या अपने किसी भी लेख में यह नहीं बताया की वाक़ई में उसके साथ यह सेव वाली घटना हुई थी । इतिहासकारों का कहना है कि न्यूटन को खुद सेब की कहानी बताना पसंद था इसलिए अपने किये गए अविष्कार को लोगो के एक साधारण और सरल भासा में समझाने के लिए ऐसा किया करते थे  जिससे लोग पृथ्वी के गुरुत्वकर्सण बल को समझ सकें ।

न्यूटन की सेव वाली कहानी किसने लिखी थी (newton apple story in hindi)

newton-apple-story-in-hindi-1

जिस व्यक्ति ने इस सेव की कहानी को सबसे अधिक विवरण में लिखा था, वह न्यूटन के दोस्त विलियम स्टुकले था और विलियम ने न्यूटन की पहली जीवनी भी लिखी थी। जब 1666 में प्लेग की एक गंभीर महामारी के कारण पूरा लंदन बंद कर दिया गया था ,tab उस समय न्यूटन ने कैम्ब्रिज छोड़ दिया और वूल्स्थोर्पे मनोर में चले गए।

विलियम लिखते हैं कि एक दिन रात में  खाने के बाद, वह और न्यूटन बगीचे में एक सेब के पेड़ के नीचे बैठकर चाय पी रहे थे, जब न्यूटन ने उन्हें बताया कि वह अभी भी गुरुत्वाकर्षण के नियम को मानते हैं। विलियम के अनुसार, न्यूटन ने उन्हें बताया कि सेब का पेड़ भी गुरुत्वाकर्षण के नियम का एक सबसे अच्छा उदाहरण है। विलियम ने लिखा कि इस बातचीत के दौरान, न्यूटन ने कहा कि, सेब सीधे फर्श पर सीधी स्थिति में क्यों गिरता है, वह ऊपर या किनारे की ओर कहीं क्यों नहीं गिरता है।

newton-apple-story-in-hindi-2

विलियम्स लिखते हैं कि न्यूटन इस विचार का निष्कर्ष निकालने में लीन हो गए  थे। इस बीच, कुछ सेब पेड़ से टूटे और न्यूटन के पास में जा गिरे इससे उन्होंने  निष्कर्ष निकाला कि सेब एक सीधी रेखा में गिरा क्योंकि पृथ्वी की गुरुत्वाकर्षण शक्ति निश्चित रूप से पृथ्वी के केंद्र में है। विलियम, हालांकि, यह नहीं कहते हैं कि क्या सेब न्यूटन के सिर पर गिर गया था।

विलियम के लेखन को ध्यान में रखते हुए, हम कह सकते हैं कि हालांकि सेब न्यूटन के सिर पर नहीं गिरा था , लेकिन न्यूटन के गुरुत्वाकर्षण के नियम के बारे में जानने के लिए यह पर्याप्त था और इसके बाद न्यूटन ने गुरुत्वकर्सण से समबन्धित तीन नियम को दुनिया के सामने रखा जो आज भी साइंस के क्षेत्र में उतना ही महत्वपूर्ण हैं जितना की पहले था।

notes

  • जब उसने सेब को गिरते हुए देखा था लेकिन वह सेव उनके माथे के ऊपर नहीं गिरा था । उस गांव में आज भी एक सेव का पेड़ है जो उनके इस तथ्य को सच साबित करने के लिए काफी  जिसे न्यूटन ट्री के नाम से जाना जाता है।
  • आज हम हवाई जहाज़ , अंतरिक्ष यान , गगन चुम्बी इमारतें , आदि को बनते हुए  देखते ये सभी इन्ही के इनके ही नियम के लागू करके बनाया जाता हैं ।

conclusion

दोस्तों आपको मेरा यह आर्टिकल कैसा लगा मुझे कमेंट करके जरूर बताएं जिससे मुझे इस तरह के जानकारी वाले आर्टिकल लेन में काफी मदद मिलती हैं और आपके मन में कोई सवाल हो तो उसे भी हमे बताएं जिसको तुरंत सोल्वे करने का प्रयास किया जेगा धन्यवाद ।

Leave a comment