buchholz relay working in hindi-buchholz relay in hindi

buchholz relay working in hindi

1940 के दसक में पहली बार transformer में पहले से और ज्यादा शुद्धिकरण करने के लिए buchholz relay का पहली बार इस्तेमाल किया गया और इसके परिणाम इतने पोसिटी निकले की इसका इस्तेमाल आज भी पुरे दुनिया भर में किया जाता हैं ।

जो बड़े ट्रांसफार्मर होते हैं या यह कहे की हमारे भारत में बिजली विभाग द्वारा लगाए जाने वाले transformer कई तरह के पुर्जो से मिलकर बने होते है जिसमे से किसी भी ट्रांफॉर्मर का buchholz relay सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है ।

buchholz relay ही ट्रांसफार्मर को खराब होने से बचाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान निभाता है । यह transformer के electricity fault और जलने से पहले ही पूर्वानुमान या अलर्ट देता है जिससे परिणाम स्वरूप हमारा ट्रांफॉर्मर जलन से बच जाता है ।

यह  relay  वो पुर्जा होता हैं जिसमे operate करना के लिए gas की जरुरत पड़ती है जिसके भरपाई के लिए ट्रांसफार्मर के आयल से की जाती है अथार्त जब हमारा tranformer चालू अवस्था में गर्म होता हैं

तो उस समय उसके अंदर में जिस आयल का इस्तेमाल करते हैं वो गर्म होने लगती है और गैस में तब्दील हो जाती है और यही गैस को हम अपने buchholz relay में प्रयोग कर अपने device को बचाने में सफलता मिलती है ।

आप निचे इमेज में बिलकुल अस्पस्ट देख सकते है की किस तरह से आयल इस नाली में मैन टैंक से आता है और वहां से होते हुए consucative टैंक की तरफ चला जाता है ।

buchholz relay in hindi circuit diagram

buchholz-relay-working-in-hindi-1

buchholz relay in hindi how it works and working

हम सभी को यह मालूम है की  buchholz relay , conservator tank और transformer के मैन टैंक में जुड़नेवाले पाइप के बिच में लगी हुई होती है और इसके दोनों तरफ दीवाल होते हैं ताकि बाद में  buchholz relay में किसी तरह की कोई दिक्कत आने पर इस relay को बदला जा सके ।

buchholz relay के ऊपर साइड में एक ढक्कन लगा होता है जिससे खोलकर इस रिले के अंदर की हवा को निकला जा सके और दुबारा relay को सेट किया जा सके । transformer की oil की फ्यूचर में टेस्टिंग करना के लिए buchholz relay के निचे साइड में एक नेट लगी होती है

जिसको हटाकर oil की टेस्टिंग की जाती है । अब हम इसके मुख्य कार्य की बात करते हैं , जैसा की हमे मालुम हैं की oil गर्म होकर coservater tank की तरफ जाता है और जब ठंडा होता है तो वापस मुख्या टैंक में आ जाता है ।

यदि इसको हम विस्तार से समझे तो transformer के अंदर कोई फाल्ट या उसके अंदर वाइंडिंग तार का ज्यादा गर्म होना या शार्ट होने आदि आती है।उसके अंदर गर्मी पहले के मुक़ाबले और ज्यादा और तेजी के साथ बढ़ने लगती हैं

और आयल गैस में कन्वर्ट होकर conservator tank से होते हुए buchholz relay के पास पहुँचता है एवं इस relay के पास ही दो मरकरी के स्विच लगे होते है ।

बुछोल्ज़ रिले फंक्शन्स  (buchholz relay working in hindi)

जब buchholz relay में गैस इकट्ठा होने लगते हैं तो पहले एक मरकरी का स्विच ऑपरेट हो जाता है जिससे ऑपरेटर को पता चल जाए की ट्रांसफार्मर के अंदर गड़बड़ी आ गयी है ।

यदि ऑपरेटर अभी भी कोई एक्शन नहीं लेता है तो buchholz relay में गैस का दबाव पहले के मुक़ाबले और ज्यादा बढ़ने से दूसरा वाला मरकरी भी on हो जाता है ।अब मास्टर रिले को ब्रेकर को ट्रिप करने के लिए संकेत भेजता है ,buchholz relay तुरंत breaker को ट्रिप कर देती है

हमारा ट्रांसफार्मर सुरक्षित बचा लिया जाता है ।tranformer को आपने कर उसके गड़बड़ी को दूर किया जाता है और उसमे लगे  buchholz relay  के ऊपर के cap को खोलकर उसके अंदर से सारे जमा हुए हवा को बाहर निकला जाता है और फिर से इन्टॉल करके एवं साड़ी गड़बड़ी को पता लगाकर ठीक करके ट्रांसफार्मर को फिर से चालू कर दिया जाता है ।

buchholz relay in hindi advantages

  • buchholz relay के द्वारा हमे छोटे से छोटे और बड़े प्रॉब्लम बड़े आसानी से नजर आ जाते है जिसके फलस्वरूप ट्रांसफार्मर को ज्यादा नुकसान पहुंचने से पहले ही बचा लिया जाता है ।
  • ट्रांसफार्मर के मामले में और किसी दूसरे पुर्ज़ो की तुलना में इसको सुरक्षा प्रदान करने का सबसे सिमले तरीका है ।

buchholz relay advantages and disadvantages

  • buchholz relay सिर्फ  आयल से भरे ट्रांसफार्मर में वर्क करता हैं अथार्त तेल के अभाव में यह रिले प्रॉपर वर्क नहीं करेगा ।
  • आयल से समन्धीत फाल्ट को ही यह indicate करता हैं ।
  • मरक्यूर्री स्विच को ज्यादा सेंसटिव नहीं रखा जाता है क्योंकि उसके अंदर बन रहे आयल के बुलबुले , भूकंप , कम्पन के कारण भी buchholz relay ट्रांसफार्मर को बंद करा सकता है ।
  • इस relay का वर्क स्पीड थोड़ा काम होता है जोकि 0.1 से 0.2 सेकंड का आस – पास है जो बहुत स्लो है ।

buchholz relay application-(buchholz relay working in hindi)

  • स्थानीय ओवरहीटिंग
  • तेल में हवा के बुलबुले का परवेश
  • core bolt inslation की विफलता
  • रिसाव के कारण तेल की कमी और तेल की स्तर की कमी को बताना
  • खराब और ढीले तार की जोइनिंग
  • शार्ट सर्किट फेज के बीच में
  • वाइंडिंग एअर्थ में कमी

buchholz relay  vs oil surge relay in hindi(buchholz relay working in hindi)

buchholz relay
यह  का उपयोग  तेल से भरे ट्रांफॉर्मर के सरंक्षण के लिए एवं उसके निम्न स्तर का पता लगाने के लिए किया जाता है ।

यह गैस सक्रिय रिले है

इसको ट्रांसफार्मर और कन्सेर्वटोर टैंक के बिच में लगाया जाता है ।

यह गैस के अधिक मात्रा में एक्टिवटे होता है

oil surge relay (osr)

osr का उपयोग on load changer chamber के अंदर विकसित किसी खराबी का पता लगाने में किया जाता है

यह तेल सक्रीय रिले है ।

oltc हेड और आयल कन्सेर्वटोर के बिच में इसको  को लगाया जाता है ।

यह तेल के अधिक मात्रा होने के कारण एक्टिवेट होता है

दोस्तों इस आर्टिकल के मदद से उम्मीद है की आपको सब कुछ आसान भासा में समझ आया होगा और पसंद आया तो हमे कमेंट्स जरूर करियेगा जिससे मेरा मनोबल बढ़ेगा और इस तरह के आर्टिकल को आपके सामने पेश करने में भी मदद मिलेगी । धन्यवाद्

Leave a comment